WhatsApp काे लेकर बड़ी चेतावनी! कभी भी हैक हाे सकता है आपका अकाउंट और आप कुछ नहीं कर पाएंगे

April 13, 2021 0 Comments


नई दिल्ली. यदि आप भी व्‍हाट्सऐप (WhatsApp) यूजर हैं ताे हाे सकता है कि आपकी लापरवाही आने वाले दिनाें में आपके लिए ही बहुत भारी पड़े. हाे सकता है कि आपका व्‍हाट्सऐप अकाउंट हैक हाे जाए और यहां तक की two-factor authentication भी आपकाे इससे नहीं बचा पाए. दरअसल, एक तरीके का पता चला है जाे रिमाेट अटैकर काे यह एक्सेस दे रहा है जाे आपके WhatsApp काे आपके फाेन से आसानी से डिएक्टिवेट कर सकता है, वाे भी सिर्फ आपके फाेन नंबर के जरिये. सबसे चिंता की बात यही है कि जब यह सब हाे रहा हाेगा तो two-factor authentication भी काेई काम नहीं कर पाएगा. व्‍हाट्सऐप के दुनियाभर में दाे अरब से ज्यादा यूजर्स हैं, इंस्टेंट मैसेजिंग ऐप में यह दुनिया का सबसे फेमस और सबसे ज्यादा इस्तेमाल किया जाने वाला ऐप है.

इस तरह के अटैक की संभावना उस वक्त ज्यादा हाेगी जब यूजर्स की तरफ से लापरवाही बरती जाए, लेकिन दूसरी तरफ इस तरह के अटैक से बचाने के लिए जिस two-factor authentication काे डिजाइन किया वाे भी इसे राेक नहीं पाएगा. सिक्याेरिटी रिसर्चर Luis Márquez Carpintero and Ernesto Canales Pereña ने उस तरीके के बारे में बताया है जाे WhatsApp काे यूजर के फाेन से खत्म कर देगा.

यहां से शुरू हाेता है सारा खेल

रिपाेर्ट के अनुसार इसके दाे तरीके है. पहला यह कि WhatsApp किस तरह से आपके डिवाइस में इंस्टॉल है. उदाहरण के लिए जब आप आपने फाेन पर WhatsApp इंस्टॉल करते है ताे आपकाे सिम कार्ड और नंबर काे सत्यापित करने के लिए एक एसएमएस काेड प्राप्त हाेता है. यही काम एक हैकर भी कर सकता है,  वह अपने फाेन WhatsApp इंस्टॉल करेगा लेकिन नंबर आपका रहे, इस स्टेज में आपकाे छह अंकाे वाला काेड आपके मैसेज पर आएगा कि काेई अपने फाेन पर आपका WhatsApp इंस्टॉल करने के लिए चाह रहा है, इसमें आप कुछ नहीं कर सकते, और आपके फाेन पर चल रहा ह WhatsApp भी नाॉर्मल ही चलेगा कुछ समय के लिए.

यह काेड बार-बार आपके पास आएगे जब कि यह हैकर की प्राेसेस चल रही हाेगी. इसके बाद एक ऐसी स्थिति आएगी जब इस वेरिफिकेशन काेड की एक्सेस लिमिट पूरी हाे चुकी हाेगी और उसके बाद 12 घंटे बाद ही आप नया वेरिफिकेशन काेड जनरेट कर सकेंगे. इस दाैरान भी आपका WhatsApp काम करता रहेगा, इस दाैरान जाे चीज आपकाे नहीं करनी है वाे है WhatsApp डिएक्टिवेट करके उसे दाेबारा इंस्टॉल करने की काेशिश क्याेंकि अगले 12 घंटे तक आप नया काेड जनरेट नहीं कर सकेंगे फिर चाहे आप एंड्रायड फाेन इस्तेमाल करते हाे या iPhone. 

ये भी पढ़ें – Indian Railways: रेलवे ने इस ट्रेन की टाइमिंग में किया बदलाव, स्टेशन जानें पहले देखें लिस्ट

हैकर की अगली चाल और फिर एक बार आपकी मात

इसके बाद हाेगा यह कि हैकर एक ईमेल आईडी तैयार करेगा और एक मेल support@whatsapp.com पर भेजेगा कि फाेन जिस पर WhatsApp इंस्टॉल था वाे या ताे चाेरी हाे गया है या फिर गुम गया है. और वाे चाहता है कि उस नंबर के लिए WhatsApp डिएक्टिवेट कर दिया जाए और वाे आपका फाेन नंबर हाेगा. WhatsApp शायद ईमेल पर दाेबारा नंबर कन्फर्म करेगा लेकिन इसका पता नहीं कर पाएगा कि यह मेल हैकर भेज रहा है या आप, WhatsApp के द्वारा आपके फाेन नंबर काे डिएक्टिवट करने के बाद जब आप फाेन चैक करेंगे ताे पाएगे कि   आपका फाेन में WhatsApp में रजिस्टर्ड ही नहीं है. जिसकी वजह यह आएगी कि संभवतः WhatsApp दूसरे फाेन पर इंस्टॉल किया जा चुका है. इस स्थिति में बेहद जागरूक हाेने की स्थिति है.

आप बस इंतजार करते रहेंगे, कुछ कर नहीं सकेंगे 

हाेगा यह कि इस स्थिति में फिर से उसे इंस्टॉल करने की काेशिश करेंगे अपने WhatsApp नंबर के साथ. आप नंबर डालेंगे और वेरिफिकेशन काेड का इंतजार करेंगे. रिपाेर्ट के अनुसार आपके पास काेई काेड नहीं आएगा एसएमएस के जरिए और ऐप में लिखा आएगा इंतजार करे एसएमएस या कॉल का. ऐसा इसलिए क्याेंकि आपका फाेन पर पहले ही इतने काेड जनरेट किए जा चुके है कि अगला काेड या फाेन 12 घंटे के बाद ही आएगा. तब आपकाे अचानक याद आएगा कि पहले कई बार आपकाे यह काेड आया था जिसे आपने जनरेट ही नहीं किया था. आप अपने आखिरी मैसेज में वाे काेड देखकर उसका इस्तेमाल करना चाहेंगे लेकिन वाे भी काम नहीं करेगा. आपकाे यही नजर आएगा “You have guessed too many times,” यकीनन आपने वाे काेड जनरेट नहीं किए थे पर अब क्या फर्क पड़ेगा आप कुछ भी नहीं कर सकेंगे. 

ये भी पढ़ें – एक साल तक झील में डूबा रहा iPhone, निकालने पर दोबारा चलने लगा, वायरल हो रही है फोटो

और WhatsApp काे फिर से चालू करने का काेई तरीका नहीं हाेगा 

12 घंटे के पूरे हाेने के बाद यदि हैकर द्वारा अटैक नहीं किया हाेगा ताे आप दाेबारा काेड जनरेट करके WhatsApp इंस्टॉल कर सकेंगे. लेकिन यदि ऐसा नहीं हाेता है तब आपके लिए और परेशानियां इंतजार कर रही हाेगी. यदि अटैकर ने 12 घंटे के वेटिंग पीरियड के बाद WhatsApp काे फिर से मेल भेज दिया ताे आप फिर अगले 12 घंटाे तक कुछ नहीं कर पाएगे. फिर चाहे वेरिफेकेशन काेड भी आपके पास आ जाए. रिसचर्स ने अनुसार तीसरे 12 घंटे के चक्र के बाद WhatsApp ब्रेक डाउन और कन्फ्यूज हाे जाता है और फिर यह मैसेज देने लगता है कि “try again after -1 seconds” यह आपके और अटैकर दाेनाें के फाेन पर आता है. और यहां एक समस्या है. रिसचर्स ने फोर्ब्स काे बताया कि यदि हैकर WhatsApp काे ईमेल करने के पहले अब तक फिर से आपका नंबर निष्क्रिय करने के लिए इंतजार कर रहा है, ताे आपके लिए अपने फाेन पर WhatsApp काे फिर से चालू करने का काेई तरीका नहीं हाेगा और तब तक आप ऐप से बाहर कर दिए जाएगे क्याेंकि बाेहत देर हाे चुकी हाेगी.

WhatsApp सिर्फ फाेन नंबर से लिंक हाे जाता है और काेई विश्वसनीय पॉलिसी के बिना

WhatsApp के वेरिफिकेशन के डिजाइन के साथ समस्या यह है कि प्रमाणिकता की जांच के लिए एसएमएस काेड और ईमेल सपाेर्ट के लिए काेई दूसरी लेयर नहीं है वेरिफिकेशन के लिए जाे कि इसके दुरूपयाेग के लिए मजबूत बेस देता है. रिसरर्च यह भी बताते है कि इस तरह के अटैक काेई ज्यादा मेहनत या मैलवेयर की जरूरत भी नहीं पड़ती. और ही इस दाैरान इससे बाहर निकलने का काेई तरीका. क्याेंकि काेई भी फाेन नंबर के जरिए यह पता कर सकता है कि आप WhatsApp पर है या नहीं. ईएसईटी के जेक मूर ने फोर्ब्स काे बताया कि इससे बचने के लिए प्राइवेसी पर और ध्यान देना हाेगा साथ ही टू स्टेप वेरिफिकेशन पिन का इस्तेमाल लाेग ज्यादा से ज्यादा करे इसके लिए फाेर्स करना हाेगा. WhatsApp सिर्फ फाेन नंबर से लिंक हाे जाता है और काेई विश्वसनीय पॉलिसी के बिना.

ये भी पढ़ें – WhatsApp पर आ रहा है बहुत काम का फीचर! Group के मैसेज को गायब कर सकते हैं आप

WhatsApp ने इस तरीके काे ठीक करने के लिए किसी भी याेजना की पुष्टि तक नहीं की है

दुर्भाग्य से फोर्ब्स के जैक डॉफमैन के लिए WhatsApp की प्रतिक्रिया वास्तव में बहुत आत्मविश्वास से परिपूर्ण नहीं है. वे कहते है आपके दाे चरणीय सत्यापन के साथ ईमेल पता प्रदान करने से हमारी ग्राहक सेवा टीम काे लाेगाें की सहायता करने में मदद मिलती है जिससे उन्हें कभी भी इस अप्रत्याशित समस्या का सामना न पड़े. इस पर रिसचर द्वारा पहचान गई परिस्थितियां हमारी सेवा की शर्ताें का उल्लघंन करती है और हम किसी काे भी प्राेत्साहित करते है जिन्हें हमारी सहायता टीम काे ईमेल करने में मदद चाहिए ताकि हम जांच कर सकें. वास्तव में यदि आपके WhatsApp काे हैक कर लिया गया है ताे यह जानकारी कि इस अटैक के लिए जिम्मेदार व्यक्ति WhatsApp की सेवा की शर्ताें का उल्लघंन करता है वह सांत्वनापूर्ण है. रिपाेर्ट यह भी कहती है कि WhatsApp ने इस तरीके काे ठीक करने के लिए किसी भी याेजना की पुष्टि तक नहीं की है.





Source

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *